फोटोग्राफी महज़ दस्तावेज है या कला !

शैलेन्द्र कुमार उन छायाकारों में से हैं जो फोटोग्राफी को एक सशक्त कला माध्यम मानते हैं । कतिपय इसी वजह से वे छायाचित्रों को कलात्मक …

सुभद्रा से लेकर लक्ष्मी एवं दुर्गा तक के रूप में पूजित देवी एकानंशा

सनातन परंपरा की उपासना-पद्धति में संकर्षण यानी बलराम और वासुदेव कृष्ण के साथ एक देवी की संयुक्त उपासना का विवरण हमारे विभिन्न धार्मिक ग्रंथों में …

बड़े आकार की धातु प्रतिमाओं का इतिहास और वर्तमान

इतिहास की पुस्तकें हमें बताती हैं कि लगभग पांचवी सदी के आसपास तक मगध धातुमूर्तिशिल्प निर्माण का बड़ा केंद्र बन चूका था। इससे संबंधित साक्ष्य …

बातें दो विशालतम चित्रों और उसके उद्देश्य की

अक्सर यह बातें सामने आती हैं कि कला या कलाकृतियों का कोई सामाजिक सरोकार है भी या नहीं? क्या कलाकृतियां सिर्फ रस-रंजन के लिए ही …