विश्व में सर्वाधिक लोक व जनजातीय कलाऐं भारत में : जय कृष्ण अग्रवाल

तीन दिवसीय अखिल भारतीय लोक व जनजातीय कला शिविर का भव्य शुभारम्भ। लखनऊ, 2 मई 2024 I लोक और जनजातीय कलाऐं जमीन से जुड़ी कलाऐं …

ए. रामचन्द्रन की कलाः आधुनिकतावाद को खारिज करती एक सौन्दर्य-दृष्टि

यह आम आदमी सुबोध गुप्ता के आम आदमी से एकदम भिन्न है। सुबोध का आदमी जहाँ अभिजात्य वर्ग के बीच एक गुलाम हिन्दुस्तानी की तरह …

क्ले टू ब्यूटी : ब्रह्मदेव पंडित के सेरामिक शिल्प-2

भारत के सुप्रसिद्ध सिरामिक कलाकार ब्रह्देव पंडित के कलाकृतियों की प्रदर्शनी ‘बिहार म्युजियम’ में एक दिसंबर से दस जनवरी तक आयोजित की गई। ‘क्ले टू …

अमेज़ॅन के जंगलों में मिले ढाई हजार वर्ष पुराने नगर

अकादमिक जर्नल साइंस में हालिया प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, नई लेजर-मैपिंग तकनीक ने अमेज़ॅन वर्षावन में परस्पर जुड़े शहरों की एक श्रृंखला के होने …

होटल के कमरों और शौचालयों में कला मेला और कला बाजार का चक्र

मुझे बताया गया कि हाल ही में दिल्ली में संपन्न एक कला मेले में पांच सितारा होटल में कलाकृतियों को प्रदर्शित किया गया था। मैंने …

…मेरे अनुभव ही विषय बनकर मेरे कैनवस पर उतरते हैं : चित्रकार विनय अंबर

चर्चित चित्रकार विनय अम्बर के कलाकृतियों की प्रदर्शनी इन दिनों मुंबई के जहांगीर आर्ट गैलरी में चल रही है। कलाकार/ कला लेखक भूपेंद्र कुमार अस्थाना …